Breaking News

शिक्षक कभी सेवानिवृत नही होता

शिक्षक कभी सेवानिवृत नही होता
निवृत होता है तो सिर्फ
सरकारी कामकाज से,
विद्यालय जाने से,
समय पालन से,
मध्यान्ह भोजन से,
चुनाव संचालन से,
जनगणना से,
बाल गणना से,
मगर वह निवृत्त नही होता
ज्ञान के प्रचार से,
कलम और दवात से,
कॉपी और किताब से,
विज्ञान और हिसाब से,
हिंदी उर्दू आदाब से,
अंग्रेजी, संस्कृत अनुवाद से,
बच्चों के प्रति प्रेमवाद से,
एक शिक्षक सदैव शिक्षक ही रहता है
वह कभी सेवा से निवृत नही होता
बस मुक्त होता है मात्र अपने पद से
विद्यालय की चहारदीवारी और छत से
कार्यक्षेत्र हो जाता है और भी व्यापक
जब सेवानिवृत होता है कोई अध्यापक ।

रचयिता
आमिर फ़ारूक़
सहायक अध्यापक
उच्च प्राथमिक विद्यालय औरंगाबाद माफ़ी
विकास क्षेत्र सालारपुर
जनपद बदायूँ



No comments