Breaking News

Showing posts with label प्रशांत अग्रवाल. Show all posts
Showing posts with label प्रशांत अग्रवाल. Show all posts

निश्छल बच्चे

November 25, 2017
बालवाटिका जिसमें महके बच्चों की फुलवारी हँसते-गाते मासूमों की गुञ्जित हो किलकारी कोमल-नाजुक भाव हैं इनके, शरमाते मुस्काते और कभी हक़ जता...Read More

बाल-दिनचर्या

November 13, 2017
सूर्योदय से पूर्व उठेंगे अंगड़ाई से खूब तनेंगे कर-दर्शन, भू-वन्दन करके नित्य-कर्म से निवृत्त होके योग और व्यायाम करेंगे तन-मन मे...Read More

दृष्टिकोण

June 21, 2017
उन्हें सफलता की चमक लुभाती है। हमें सार्थकता की महक सुहाती है। उन्हें चौड़ाई में पसरने की दरकार है। हमें गहराई में उतरने से प्यार है।...Read More

मैं शिक्षक

June 06, 2017
'मैं शिक्षक, मैं हूँ............' कच्ची मिट्टी जैसा बचपन भावी भारत का जन-गण-मन मैं ही इसको गढ़ने वाला स्वर्णिम सपनों का रखवाला...Read More