Breaking News

Showing posts with label कविता. Show all posts
Showing posts with label कविता. Show all posts

पुत्र वही कहलायेगा ..

July 02, 2020
पुत्र वही कहलायेगा .. पिता-पुत्र में स्नेह जो है जब पुत्र-पिता में आयेगा, सही मायने में देखें तो पुत्र वही कहलायेगा। संजीदा हो खुशियांँ बेची...Read More

मेरा और मेरे साथियों का सपना

July 02, 2020
(तीनों हस्तपुस्तिकाओं को पढ़ने के बाद देखे हुए सपने का संक्षेप में कविता के माध्यम  से वर्णन किया है।)         ⭕मेरा और मेरे साथियों का सपना...Read More

धधक रही जो हृदय में ज्वाला

June 23, 2020
धधक रही जो हृदय में ज्वाला देखा आज जब ऐसा मंज़र  धधक उठी ह्रदय में ज्वाला,  बिना बात के चीन ये तूने  कैसा अनर्थ है कर डाला!  गया किसी की आँख...Read More