Breaking News

हिन्द देश की प्यारी हिन्दी


हिन्द देश की प्यारी हिन्दी,
हम सब की ये शान है...

है ये हमारी मातृभाषा ,
हम सबको अभिमान है.....

आओ हम सब इसको सीन्चे,
दुनिया में इसका नक्शा खीन्चे....

मिले हिन्दी को पहचान ,
क्या अमेरिका क्या ईरान ....

मान बड़े का सिखलाती ,
आदर हेतु ' जी ' लगवाती....

न मिलेगा एसा आदर भैया,
अंग्रेजी और ईरानी में, हाँ....

लगा लो  गले से अपने ,
ये तो अपनी हिन्दी है.....

कहती हूँ आज मैं सीना तान ,
हिन्दी मेरी मातृभाषा, मेरा है हिन्दुस्तान ......

रचयिता
सबीना साहनी (स0 अ0)
प्रा0 वि0 बंगरा,
विकास क्षेत्र - गुरसराय
मिशन शिक्षण संवाद झांसी

No comments