Breaking News

नारियाँ नारायणी हैं...

महिला शक्ति को महिला दिवस की बधाई व शुभकामनाएं एक घनाक्षरी छंद के साथ.....
चित्र है विचित्र मित्र, लोग भोग भाव लिप्त।
चित्त है विक्षिप्त प्रभु ज्ञान उन्हें दीजिये।
जीवन प्रदायनी औ साक्षात शक्ति-रूप
नारियाँ नारायणी हैं मान इन्हें दीजिये।
रीतियों से द्रोह कर, दीजिये आरोह स्वर
नया गान, सुर-नई तान इन्हें दीजिये।
राखिये आकाश मुक्त, सघन बनें आलम्ब
रोहण हेतु नव प्र'तान इन्हें दीजिये।
रचना- निर्दोष कांतेय

No comments