Breaking News

ईद आई

चाँद का दीदार हुआ।
ईद आई ईद आई।                                
'कहकशा' में हलचल होई।                      
ईद आई ईद आई                                                 
चाँद का दीदार हुआ                                              
ईद आई ईद आई                                       
'आफताब'और 'महताब'भी रोशन हुए।            
ईद आई ईद आई                                             
चाँद का दीदार हुआ
ईद आई ईद आई                                               
सारी 'अंजुमन' गुलज़ार होई                           
ईद आई ईद आई                                                
चाँद का दीदार हुआ                                            
ईद आई ईद आई                                             
मजहब की दीवार टूटी
ईद आई ईद आई                                              
चाँद का दीदार हुआ                                     
ईद आई ईद आई                                                 
दिलों की नफरतों को भूल गले मिलों।              
ईद आई ईद आई                                                  
चाँद का दीदार हुआ।                                              
ईद आई ईद आई।             
अब्बू -अम्मी,दादा-दादी,नाना- नानी ने।         
ईदी दी ईद आई ईद आई।                  
चाँद का दीदार हुआ।                                          
ईद आई ईद आई                                             
सबके चहरे पे रौनक आई।                                
ईद आई ईद आई                                                   
चाँद का दीदार हुआ।                                             
ईद आई ईद आई।                                               
सब मिल बैठ सेमाईया खाओ।                                
ईद आई ईद आई                                                  
चाँद का दीदार हुआ                                          
ईद आई ईद आई।    
                                      
रचयिता
अब्दुल्लाह खान(स0अ0)                 
प्रा0वि0बनकटी,
बेलघाट, गोरखपुर।

No comments