Searching...
Friday, March 24, 2017
अर्पण

अर्पण

सुप्त बीज से अंकुर फूटा, पोषित हो, प्रखरित हुआ, यौवन छलका, मदमस्त हुआ, पहले हरित फिर लाल हुआ,  संपूर्णता मिली  जब किया, समाहित  स्वयं ...

Thursday, March 23, 2017
प्रहरी

प्रहरी

मिला है तुमको ये जीवन! सार्थक इसको क़र डालो अपनी  शिक्षा की सेवा से जीवन नन्हें फूलों का विकसित प्रतिपल कर डालो आओ ! आकर कदम बढ़ाये कु...

Monday, March 20, 2017
शाख़ से होकर जुदा....

शाख़ से होकर जुदा....

शाख़ से होकर जुदा जब ख़ाक पत्ते छानते हैं। बन्धनों का मोल क्या दम तोड़ कर पहचानते हैं। उम्र सारी निस्बतों में प्यार से रहकर गुज़ारो, चार दिन ...

हम शिक्षक हैं

हम शिक्षक हैं

इन नन्हे-मुन्नों की हम तक़दीर बदल देंगे... हम शिक्षक हैं बेसिक की तस्वीर बदल देंगे... नवाचार अपनाकर हम पढ़ाएंगे.... खेल खेल में बच्चों को...

Saturday, March 18, 2017
जिन्दगी  का है  सफर

जिन्दगी का है सफर

ना ठहर तू इस पहर । लहर है ये डगर डगर । हारना और जीतना । जिन्दगी  का है  सफर।। हर दिन एक नया सवाल हो रहा तैयार है हर सवाल का जवाब ढूंढ ले तू...

प्राथमिक विद्यालय की दिनचर्या

प्राथमिक विद्यालय की दिनचर्या

आओ कर ले हम परिचर्चा अपने प्राथमिक विद्यालय की ! उलट-पुलट हुई है व्यवस्था बात यही समझाने की...!        चाह रहे है कब से पढ़ना        और...

Friday, March 17, 2017
होली का सन्देश

होली का सन्देश

होली के परिदृश्य में झूमे सारा देश, रंगों का त्यौहार है देता यह सन्देश। भिन्न भिन्न भाषाएँ है भिन्न भिन्न है वेश। सबका अपना अपना, अलग अ...

Wednesday, March 15, 2017
पूर्वाग्रह की राजनीति से जागो

पूर्वाग्रह की राजनीति से जागो

जीत हुई किसी और की हार गया कोई और | प्राइमरी का मास्टर व्यर्थ मचाए शोर || कछु नेता निज हार पे बोलें क्या अब बोल | मिला बहाना ना कोई तो ...

Tuesday, March 14, 2017
नव नेह युवा

नव नेह युवा

प्राणप्रिये परदेश गए तुम खोजत चित्त तुम्हें भटके। श्वांस चले धड़के जियरा पर प्राण वहीं तुमपे अटके। कौन निगाह धरे हमपे सब भूल गई लटके झटके। ...

Monday, March 13, 2017
आई है होली

आई है होली

मन मद है छाया, फागुन आया, ये रुत है मस्तानी। आई है होली, हँसी ठिठोली, जागे प्रीत पुरानी। यह मेरी मर्जी, सुन लो अरजी, छेड़ो प्रेम कहानी।...

Sunday, March 12, 2017
राम - रहीम की होली

राम - रहीम की होली

दौड़ के जब राम ने, लगाया रहीम के रंग। ले आया फिर वह पिचकारी, होली खेली मिलकर संग। देख राम रहीम की होली, रह गए दुश्मन सारे दंग। माथे पर खि...

 कान्हा खेलत फाग राधिका संग

कान्हा खेलत फाग राधिका संग

कान्हा खेलत फाग राधिका संग हरा गुलाबी लाल बैजनी सब के लगावे रंग बरसाने की राधा प्यारी ललिता बिसा खा सखिया न्यारी गोरी गुलाबी मतवारी लग...