Breaking News

प्राथमिक शिक्षा की संजीवनी "निष्ठा"

📌"निष्ठा"   प्राथमिक शिक्षा की संजीवनी


सुनो-सुनो भाई सुनो-सुनो,
निष्ठा की तुम बात सुनो।
निष्ठा की तुम सुनो कहानी,
ये बनाती हमे सयानी।
****
अच्छे-अच्छे प्रशिक्षक आये,
नई-नई तकनीकी सिखाये।
अधिगम सुगम बनाने हेतु,
कविता खेल कहानी बताये।
****
सुनो-सुनो भाई.........
****
भाषा, कला औऱ गणित विषय की,
हमको बारिकी बतलाए।
कला समेकित शिक्षा को,
अब हम सब आधार बनाये।
*****
सुनो -सुनो भाई.....
****
नेतृत्व कला पर जोर है,
सामंजस्य बैठाना चहुँ ओर है।
समझें सब अपनी जिम्मेदारी,
अभिभावक की हो भागीदारी।
****
सुनो-सुनो भाई........
****
अधिगम होगा अब स्थाई,
I C T है जबसे आई।
खेल-खेल में पढ़ाना है,
शिक्षा में रुचि बढ़ाना है।
****
सुनो -सुनो भाई......
****
रटन्त विद्या घटन्त बुद्धि,
ये सबको समझाना है।
गणित और विज्ञान विषय को,
करके ही समझाना है।
****
सुनो-सुनो भाई.....
****
पर्यावरण शुद्ध हो अपना,
हर बच्चे का हो ये सपना।
धरती पर जब होगी हरियाली,
बोलेगी चिड़िया डाली -डाली।
****
सुनो-सुनो भाई....
****
निष्ठा से सब काम करेंगे,
लक्ष्य को अपने प्राप्त करेंगे।
लर्निंग आउट कम स्वयं मिलेगा,
गुरुजनों का सम्मान बढेगा।।
*****
सुनो-सुनो भाई सुनो -सुनो...
निष्ठा की तुम बात सुनो।
निष्ठा की तुम सुनो कहानी,
ये बनाती हमें सयानी।।।
✍️
जनपद-गोरखपुर ब्लॉक-सहजनवां की शिक्षिका बहन-

✍️नीलम त्रिपाठी
✍️ममताप्रीति श्रीवास्तव
✍️अर्चना गुप्ता
✍️ज्योति ठाकुर
✍️रुचि राय
✍️मोनिका यादव
✍️पल्लवी गौतम

1 comment: