Breaking News

नववर्ष

कितनी सहजता से
तारीखों के बदलते
ही
कैलेंडर
बदल जाते,
समय-परिस्थितियों के
बीच
माटी के तन
में एक मन
समेटते-सहेजते
बनते-बिगड़ते
एक जैसा तो नही
रहता,
बदलाव की प्रक्रिया
में
सकारात्मक
सृजनात्मक
रहने के लिए,
जटिल जीवन
शक्तिशाली मन
को
आइये मिलकर
श्रेष्ठ दिशागत
प्रवाह की ओर
ले चलते
आशाओं-उम्मीदों के
साथ
हम साथ-साथ
नववर्ष की ओर
चलते
---- निरुपमा मिश्रा ( नीरू)
नववर्ष विक्रम संवत २०७३ की आशाभरी शुभकामनायें

No comments