Breaking News

गुरु महिमा

      गुरु महिमा
 कीर्ति सबने बखानी है


गुरु चरणों की करूँ वन्दना,
जिससे ये दुनिया ज्ञानी है,
कीर्ति सबने बखानी है।
गुरु दुनिया में श्रेष्ठ दानी हैं,
कीर्ति सबने बखानी है।

सतयुग त्रेता की क्या बात करूँ
द्वापर कलयुग पर नाज करूँ
गुरु महिमा सबने जानी है
कीर्ति सबने बखानी है।

गुरु जमदग्नि विश्वामित्र हुए
मुनि गौतम और वशिष्ठ हुए
गुरु परशुराम सा ना कोई सानी है
कीर्ति सबने बखानी है।

गुरु द्रोणाचार्य आधार बनें,
अर्जुन के रचनाकार बनें,
जिनकी महिमा से बने धनुर्धारी हैं,
कीर्ति सबने बखानी है।

जिसने कान्हा को ज्ञान दिए
शिक्षा रूपी प्रसाद दिए
गुरु संदीपन की कीर्ति जगजानी है
कीर्ति सबने बखानी है।

कलयुग में कितनें व्यास हुए
ना जाने कितने कालिदास हुए
गुरुकृपा से पोषित हर प्राणी है,
कीर्ति सबने बखानी है।

जिनके ज्ञान से ये संसार जगा,
ज्ञान ग्रहण किया इतिहास रचा,
कितनी महिमा गाऊं गुरु की,
महिमा से सिंचित नर नारी हैं,
कीर्ति सबने बखानी है।


✍️रचयिता
दीपक कुमार यादव (स•अ•)
प्रा• वि• मासाडीह महसी
बहराइच (उ•प्र•)
मोबाइल 9956521700

2 comments:

  1. नौकरी मुझे चाहिए है

    ReplyDelete
    Replies
    1. बेरोजगारी है दाग बड़ा बेरोजगारी से कई उधर हो गए हैं बर्बाद बेरोजगारी से कई घर बर्बाद हो गए हैं औरत हो चाहे आदमी हो हर घर में कमाना है बेरोजगारी बेरोजगारी एक बीमारी है बेरोजगारी से निजात दिलाओ हर औरत हर एक आदमी का भविष्य बनाओ इनको नौकरी दिलाओ इनको नौकरी दिलाओ Na Ho exam Na Ho interview directly bharti Ho

      Delete