Breaking News

शिक्षा ही करेगी कायाकल्प


सुन-सुन मेरे भाई,
आ  गई  जुलाई ।

अब खत्म घुमाई,
शुरू करो पढ़ाई ।

सुबह  से   लेकर  शाम,
छोड़ो बच्चों सारे काम।

कॉपी और किताब तमाम,
कर लो सबका इंतजाम।

चिंकू,पिंकू,मीना, रुकसाना,
विद्या,पूजा सबको बताना।

नहीं  चलेगा  कोई  बहाना,
स्कूल पड़ेगा सबको आना।

मम्मी-पापा करें ना भूल,
बच्चे  उनके  प्यारे फूल।

जरूर भेजें उन्हें स्कूल ,
उत्थान का है यही मूल।

हर नागरिक  करे संकल्प,
पढ़ाई का न कोई विकल्प।

बचपन  है  अत्यंत  अल्प ,
शिक्षा ही करेगी कायाकल्प।

प्यारे बच्चों तुम भी सुन लो,
एक  बात  मन में  गुन लो ।

दृढ़ संकल्प का ताना बुन लो,
पढ़ाई को ही साथी चुन लो ।

हो जाओ  तुम सब  तैयार,
हर बाधा को कर के  पार।

शिक्षा को बनाओ हथियार,
तभी होगा सबका  उद्धार ।

पढ़ लिख कर आगे आएंगे,
सुशिक्षित समाज बनाएंगे।

हर  बुराई  को दूर भगाएंगे ,
सबको  सम्मान  दिलाएंगे ।

हर बच्चा नेक इंसान बनेगा,
देश  का  सम्मान  बनेगा।

सफलता की  पहचान बनेगा,
तभी तो भारत महान बनेगा।

रचयिता
दुर्गेश्वर राय,
सहायक अध्यापक,
पूर्व माध्यमिक विद्यालय बलुआ,
विकासखंड- उरुवा,
जनपद- गोरखपुर।
मोबाइल नंबर - 8423245550

No comments