Breaking News

बंद कमरे

March 31, 2015
अंधेरे बंद कमरे कोने में दुबके से हैं दिन जिन्हें नसीब नही होता मुँह देखना कभी रोशनी का, हर मकान की खिड़कियां ,दरवाज़े बंद हैं इस...Read More

एक थी नानी

March 29, 2015
वह नानी का दुलार, वोह मौसियों का प्यार, याद आता है मुझे, उस घर का हर एक दरो दिवार,  वोह आँगन में बिछी चारपाई,  वोह ताक में रखी हु...Read More

प्रश्नचिन्ह

March 22, 2015
तुम्हारी देहरी पर रखा दीपक प्रतीक्षा में रहा वर्षों तलक, कब दोगे विश्वास से भीगी स्नेह की बाती, एक दिन अचानक नेह के आशीष से भिगो...Read More

पिता का हिस्सा

March 20, 2015
माँ कि ममता की कहानियाँ तो बहुत सी सुन रखी होंगी आप लोगों ने लेकिन एक बाप की भूमिका को कभी कोई सीरियसली नही लेता।बाप का प्यार भी असीमित और...Read More

अंतर्दृष्टि

March 10, 2015
तुमने चाहा क़ि मैं गांधारी बन जाउँ बाँध लूँ अपनी आँखों पर पट्टियां मैंने बाँध भी ली पर कानो से सुना आहटों से पहचाना अपमान ,छल,घुटन प्र...Read More

वनिता

March 07, 2015
ममता - प्यार मन में पिरोती हूँ, संवेदनायें भावनाएं हृदय में संजोती हूँ, सृजन -मानवता , संहार- दानवता के आधार भी बनती हूँ,, जीवन...Read More

छलके रंग हैं

March 05, 2015
मनमीत मुस्काये ,छलके रंग हैं होली में सभी के, बहके ढंग हैं लजाये रूपराशि, विकल सजन-नैन प्रीति भाव पल्लवित,महके अंग हैं ---- निरुपमा मि...Read More